हिन्‍दी वर्तनी के प्रश्‍न

हिन्‍दी वर्तनी के प्रश्‍न हिन्‍दी शब्‍द शुद्धि के प्रश्‍न 1. निम्नलिखित में से किस शब्द की वर्तनी अशुद्ध है? (A) अनंग (B) परिहास (C) व्यंग (D) हास्य 2. शुद्ध वर्तनी वाले शब्द का चयन कीजिए – (A) सन्‍यासी (B) उज्ज्वल Read More …

हिन्‍दी वर्तनी

हिन्‍दी वर्तनी (हिन्‍दी शब्‍द शुद्धि) (Hindi Spelling, Word Correction) वर्तनी – लिखने की रीति को ‘वर्तनी’ या ‘अक्षरी’ कहते हैं। इसे ‘हिज्‍जी’ भी कहा जाता है।वर्तनी का सीधा संबंध उच्‍चारण से होता है। हिन्‍दी में जो बोला जाता है वही Read More …

हिन्‍दी वर्णमाला के प्रश्‍न

वर्ण विचार (वर्णमाला) के महत्त्वपूर्ण प्रश्‍न (Alphabet Questions) 1. भाषा की सबसे छोटी इकाई है –(A) शब्‍द(B) व्‍यंजन(C) स्‍वर(D) वर्ण 2. हिन्‍दी वर्णमाला में ‘अयोगवाह’ वर्ण कौन-से हैं?(A) अ, आ(B) इ, ई(C) अं, अ:(D) उ, ऊ 3. ‘क्ष’ वर्ण किसके Read More …

हिन्‍दी वर्ण विचार (Alphabet)

हिन्‍दी वर्ण विचार (हिन्‍दी वर्णमाला) (Hindi Alphabet, Hindi VarnVichar / Varnmala) भाषा की सार्थक इकाई वाक्‍य है। वाक्‍य से छोटी इकाई उपवाक्‍य, उपवाक्‍य से छोटी इकाई पदबंध, पदबंध से छोटी इकाई पद (शब्‍द), पद से छोटी इकाई अक्षर और अक्षर Read More …

राजस्थान में रीति-रिवाज

राजस्थान में रीति-रिवाज भारत के अन्य प्रदेशों से आकर यहाँ बसने वाले लोगों के अतिरिक्त यहाँ की सभी जातियों के रीति-रिवाज मूलतः वैदिक परम्पराओं से संचालित होते आये है। यहाँ पर हिन्दूओं के रूढिगत रीति-रिवाजों से मुसलमानों तथा भील, मीणा, Read More …

राजस्थान में खान-पान

राजस्थान में खान-पान काँज्या:- गाजर के छोटे-छोटे टुकड़े कर उनको उबाल कर उनमें नमक-मिर्च डालकर बनाया जाने वाला खाद्य पदार्थ काँज्या कहलाता है। भाता/रोट/दोपेर्या:- राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्रो में दोपहर के समय भोजन करने को भाता या रोट कहते हैं Read More …

राजस्थान में सुषिर वाद्य यंत्र

राजस्थान में सुषिर वाद्य यंत्र (स्वर या फूँक) इस श्रेणी में वे वाद्य यंत्र शामिल है जो फूँक से बजाये जाते है तथा वैदिक काल में इसे नादी या नाली नाम से सम्बोधित किया जाता था। यह वाद्य यंत्र लकड़ी Read More …

राजस्‍थान में अवनद्ध या ताल वाद्य यंत्र

अवनद्ध या ताल वाद्य यंत्र ऐसे वाद्य यंत्र जो लकड़ी या किसी धातु के बने होते जो गोलाकार या अर्द्धगोलाकार घेरे पर पशुओं की खाल मढ़ कर बनाया जाता हैं, उसे अवनद्ध या ताल वाद्य यंत्र कहा जाता हैं। इन Read More …

राजस्थान में तत् वाद्य यंत्र

राजस्थान में तत् वाद्य यंत्र ऐसे वाद्य यंत्र जो लकड़ी या किसी धातु का बना होता हैं। लेकिन इसको बजाने के लिए तारों का प्रयोग होता हैं। इसलिए इन्हें तत् वाद्य यंत्र कहते हैं। इनको तीन भागों में बांटा गया Read More …

राजस्थान में घन वाद्य यंत्र

राजस्थान में घन वाद्य यंत्र संगीत की लय ध्वनि तथा संगीत का उतार-चढ़ाव (गति) प्रकट करने वाले उपकरण वाद्ययंत्र कहलाते हैं गीतों व नृत्यों की माधुर्य वृद्धि के साथ ही वातावरण निर्माण एव भावाभिव्यक्ति को प्रभावशाली बनाने का कार्य होता Read More …