समोच्‍चरित भिन्‍नार्थक शब्‍द (शब्‍द-युग्‍म)

समोच्‍चरित भिन्‍नार्थक शब्‍द (शब्‍द-युग्‍म) Hindi : Similar Word (Shabdh Yugm) → अंगद : बाजूबंद, बालि का पुत्र अगद : निरोग → अनल : आग अनिल : हवा → अर्क : सूर्य अरक : रस → अकूत : बिना अन्‍दाज आकूत Read More …

अलंकार के महत्त्वपूर्ण प्रश्‍न

हिन्‍दी : अलंकार के महत्त्वपूर्ण प्रश्‍न (Hindi Ornaments Questions) → ‘चरर मरर खुल गए अरर रवस्‍फुटों से’ में कौन-सा अलंकार है? (A) अनुप्रास (B) श्‍लेष (C) यमक (D) उत्‍प्रेक्षा   → नवल सुन्‍दर श्‍याम शरीर में कौन-सा अलंकार है? (A) Read More …

हिन्‍दी : अलंकार

हिन्‍दी : अलंकार (Hindi : Ornaments) संस्‍कृत के अलंकार संप्रदाय के प्रतिष्‍ठापक आचार्य दण्‍डी के शब्‍दों में – ‘काव्‍य शोभाकरान् धर्मान अलंकारान् प्रचक्षते’ अर्थ – काव्‍य के शोभाकारक धर्म (गुण) अलंकार कहलाते हैं। हिन्‍दी के कवि केशवदास एक अलंकारवादी कवि Read More …

हिन्‍दी : छन्‍दों के महत्त्वपूर्ण प्रश्‍न

हिन्‍दी : छन्‍दों के महत्त्वपूर्ण प्रश्‍न Chand (metres) Questions in Hindi → छंद शास्‍त्र (वैदिक छंद) के आदि प्रवर्तक हैं – (A) ब्रह्मा (B) विष्‍णु (C) महेश (D) बृहस्‍पति → छंद शास्‍त्र (लौकिक छंद) के सर्वप्रथम प्रस्‍तोता हैं – (A) Read More …

हिन्‍दी : छंद, परिभाषा एवं परिचय

हिन्‍दी : छंद (Hindi : Chand or Metres) छंद क्‍या है? परिभाषा एवं परिचय : छंद शब्द ‘छद्‌’ धातु से बना है जिसका अर्थ है ‘आह्वादित करना’ या ‘खुश करना’ है। यह आह्लाद वर्ण या मात्रा की नियमित संख्या के Read More …

हिन्‍दी : रसों के महत्त्वपूर्ण प्रश्‍न

हिन्‍दी : रसों के महत्त्वपूर्ण प्रश्‍न (Ras / Sentiments Questions in Hindi) → रस सम्‍प्रदाय के प्रवर्तक हैं – (A) आचार्य भरतमुनि (B) आचार्य भामह (C) आचार्य वामन (D) आचार्य आनंदवर्धन → आचार्य भरतमुनि द्वारा स्‍वीकृत रसों की मूल संख्‍या Read More …

हिन्‍दी : रस, रस भेद

हिन्‍दी : रस Ras in hindi (Sentiments) रस क्‍या है, रस का अर्थ, रस की परिभाषा, रस के अंग या अवयव रस — “रस” का शाब्दिक अर्थ है “’आनंद’। काव्य को पढने या सुनने से जिस आनंद की अनुभूति होती Read More …

वाक्‍य क्रमबद्धता

हिन्‍दी : वाक्‍य में क्रमबद्धता (Sentence Rearrangement) अनुच्‍छेद में क्रमबद्धता निर्देश : निम्‍नलिखित प्रश्‍नों में दिए गए अनुच्‍छेदों के पहले और अन्तिम वाक्‍यों को क्रमश: (1) और (6) की संज्ञा दी गई है। इसके मध्‍यवर्ती वाक्‍यों को चार भागों में Read More …

लोकोक्तियों एवं मुहावरों के प्रश्‍न

लोकोक्तियों एवं मुहावरों के प्रश्‍न (Idioms & Phrases Questions in Hindi) → ‘हाथ को हाथ न सूझना’ का अर्थ है – (A) भ्रम में पड़ जाना (B) खोये रहना (C) घना अँधेरा होना (D) चोट लगना → ‘आँखें चुराना’ का Read More …

हिन्‍दी : लोकोक्तियाँ

लोकोक्तियाँ / कहावतें (Phrases / Proverbs) ‘लोक में प्रचलित उक्ति’, लोकोक्ति या कहावत कहलाती है। किसी विशेष प्रसंग में पूरा कथन उद्धृत किया जाता है तो वह लोकोक्ति कहलाता है। जैसे – किसी कार्य को लेकर मोहन ने कहा कि Read More …