राजस्थान के अन्य प्रमुख मंदिर

राजस्थान के अन्य प्रमुख मंदिर गणेश जी के मंदिर त्रिनेत्र गणेश मंदिर – रणथम्भौर (सवाई माधोपुर) इसे रणत भंवर गजानन्द तथा लेटे हुए गणेश जी भी कहते हैं। यहाँ पर देश का सबसे प्राचीन गणेश मेला भाद्रपद शुक्ल चतुर्थी को Read More …

राजस्थान के प्रमुख जैन मन्दिर

राजस्थान के प्रमुख जैन मन्दिर “रणकपुर या चैमुखा जैन मन्दिर- नांदिया गाँव (पाली) इन मन्दिरों का निर्माण महाराणा कुम्भा के काल में धरणकशाह/ धरणशाह ने 1439 ई. में वास्तुकार देपाक की देखरेख में मथाई नदी के किनारे करवाया था। रणकपुर Read More …

राजस्थान के प्रमुख शिवजी मन्दिर

राजस्थान के प्रमुख शिवजी मन्दिर बेणेश्वर महादेव का मंदिर-नेवरपुरा/नवाटापुरा (डूंगरपुर)- बेणेश्वर का अर्थ होता है-’’डेल्टा की मल्लिका’’ या ’’मृत आत्माओं का मुक्ति स्थल’’। यह मंदिर सोम, माही व जाखम नदियों के त्रिवेणी संगम पर स्थित हैं। यहाँ पर विश्व का Read More …

राजस्थान के प्रमुख कृष्ण मन्दिर

राजस्थान के प्रमुख कृष्ण मन्दिर श्री नाथ जी का मन्दिर- नाथद्वारा (राजसमन्द)- बनास नदी के किनारे बसे नाथद्वारा का अन्य नाम नन्दगाँव हैं, इसका प्राचीन नाम सिहाड़ गाँव था। इस मंदिर का महाराणा राजसिंह प्रथम ने करवाया था। श्रीकृष्ण की Read More …

राजस्थान के प्रमुख विष्णु मन्दिर

राजस्थाiन के प्रमुख विष्णु मन्दिर दत्तात्रेय का मन्दिर- माउण्ट आबू (सिरोही)- यह मन्दिर राजस्थान की सबसे ऊंची चोटी गुरू शिखर पर स्थित हैं। गुरू शिखर चोटी की ऊंचाई समुद्रतल से 1722 मीटर हैं और इस मंदिर की ऊंचाई 5 मीटर Read More …

राजस्थान में प्रमुख मंदिर शैलियां

राजस्थान में प्रमुख मंदिर शैलियां भारत में मंदिर निर्माण की 3 प्रमुख शैलियां है- नागर/आर्य शैली- यह उतरी भारत की शैली है, इसमें मंदिर पर विशाल गुम्बद व विशाल गर्भगृह होता है। द्रविड़ शैली- यह शैली दक्षिणी भारत में प्रचलित Read More …

राजस्थान के प्रमुख मुस्लिम संत व सम्प्रदाय

राजस्थान के प्रमुख मुस्लिम संत व सम्प्रदाय ख्वाजा मुइनुद्दीन चिश्ती ख्वाजा मुइनुद्दीन चिश्ती जन्म – सीस्तान, संजरी (फारस) – 1143 ई़.। ख्वाजा मुइनुद्दीन चिश्ती मौहम्मद गौरी के साथ पृथ्वीराज तृतीय के काल में भारत आये। यहाँ पर ख्वाजा मुइनुद्दीन चिश्ती Read More …

राजस्थान के प्रमुख संत व सम्प्रदाय

राजस्थान के प्रमुख संत व सम्प्रदाय मीरांबाई- भक्तशिरोमणि मीरांबाई का जन्म 1498 ई., कुड़की गाँव (पाली), मीरां बाई के पिता- रतन सिंह (बाजोली, मेड़ता के जागीरदार) तथा माता का नाम – खुशबू कंवर। इसका का लालन-पालन मेड़ता, मीरा बाई का Read More …

राजस्थान के प्रमुख मेले एवं त्योंहार

राजस्थान के प्रमुख मेले एवं त्योंहार हिन्दी व अंग्रेजी महिनों की तुलना अप्रैल – चैैत्र मई – वैशाख जून – ज्येष्ठ जुलाई – आषाढ़ अगस्त – श्रावण सितम्बर – भाद्रपद अक्टूबर – अश्विन नवम्बर – कार्तिक दिसम्बर – मार्गशीर्ष जनवरी Read More …

राजस्थान के लोकदेवता

राजस्थान के लोकदेवता समय-समय पर उत्कृट कार्य, बलिदान, उत्सर्ग या परोपकार कार्य करने वाले महापुरूषों को लोक देवता कहा गया है। राजस्थान में पंच पीरों की मान्यता हैं- पाबूजी, हड़बूजी, रामदेवजी, मेहाजी मंगलिया, गोगाजी। पाबूजी- जन्म 1296 वि. स., कोलू Read More …